यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना 2021

यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म व पंजीकरण प्रक्रिया

Uttar Pradesh Mahila Samarthya Yojana Apply Online | महिला सामर्थ्‍य योजना ऑनलाइन आवेदन | यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना पंजीकरण प्रक्रिया | UP Mahila Samarthya Yojana Application Form|

माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा और राज्य सरकार द्वारा महिलाओं के लिए बहुतसी कल्याणकारी सरकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं। जो कि महिला सशक्तिकरण के लिए आवश्यकता है सरकार इनके लिए उपाय कर रही है। इसी के तहत महिलाओं के लिए प्रशिक्षण और रोजगार कार्यक्रम चलाया जा रहा है इसी के अंतर्गत यूपी सरकार ने महिला सामर्थ्य योजना २०२१ का सुभारम्भ किया है। महिला स्वरोजगार योजना के तहत महिलाएं समूह या ग्रुप या अकेले लोन लेकर अपना रोजगार स्थापित कर सकती हैं। महिला विकास योजना की इस स्कीम के बाद लोन पे सब्सिडी ले सकती हैं। Mahila Samarthya Swarojgar Yojana के तहत महिला उद्योग के लिए आसानी से लोन प्राप्त कर सकती हैं।  आज हम आपको यूपी महिला सामर्थ्य योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे योजना के लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, आवेदन प्रक्रिया आधे के बारे में सूचित करने जा रहे हैं।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना 2021

राज्य सरकार द्वारा इस योजना के जरिए प्रदेश की महिलाओं को रोजगार के लिए प्रेरित करके उनकी जीवनशैली में सुधार लाने का संभव प्रयास किया जाएगा। इस योजना के तहत स्थानीय संसाधनों के आधार पर होम एंड कॉटेज उद्योगों के माध्यम से उनके जीवन स्तर में काफी सुधार आएगा। सरकार द्वारा जारी इस योजना के माध्यम से महिलाओं को अपनी फसल बेचने के लिए बाजार भी मुहैया कराया जाएगा।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जारी इस योजना को बजट 2021-22 की घोषणा करते हुए 22 फरवरी 2021 को प्रारंभ किया है। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के लिए 200 करोड़ों रुपए का बजट भी तय किया गया है। सरकार द्वारा जारी यह योजना महिलाओं के लिए लाभकारी एवं महत्वाकांक्षी साबित होगी। इस योजना का कार्यान्वयन दो स्तरीय कमेटी के तहत किया जाएगा जिसमें से एक कमेटी जिला स्तर पर और दूसरी कमेटी राज्य स्तर पर गठित की जाएगी।

यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना 2021

यूपी महिला समर्थ योजना की आवश्यकता

राज्य में 90 लाख से अधिक छोटे बड़े और मध्यम उद्योग हैं। जिनमें से 80 लाख से ज्यादा सूक्ष्म इकाइयों में स्थापित है जो होम एंड कॉटेज उद्योगों के तहत संचालित किए जाते हैं। संपूर्ण उद्योगों में महत्वपूर्ण भूमिका महिलाओं द्वारा संचालित किए जाने वाले उद्यमों में हैं। इसी वजह से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा यूपी महिला सामर्थ्य योजना की शुरुआत की गई है। जिससे कि इस योजना की शुरुआत होने के बाद महिला द्वारा संचालित किए जाने वाले उद्योगों का विकास किया जा सके। राज्य सरकार की ओर से इस योजना के लिए विशेष सुविधा प्रदान करके महिलाओं द्वारा कार्यान्वयन किया जाएगा। यह सभी सुविधा प्रदान करने के लिए राज्य की ओर से सुविधा केंद्र खोले जाएंगे जिन पर पैकेजिंग लेवलिंग बारकोडिंग आदि जैसे सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

Key Highlights Of UP Mahila Samarthya Yojana 2021

                             योजना का नाम                       यूपी महिला सामर्थ्य योजना
                                  शुरुआत                           उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
                                  लाभार्थी                           उत्तर प्रदेश के नागरिक
                             प्रमुख उद्देश्य         राज्य की महिलाओं को रोजगार के लिए प्रेरित करना
                                   वर्ष                                    2021
                   ऑफिशियल वेबसाइट                       अभी लॉन्च नहीं हुई

UP महिला सामर्थ्य योजना का प्रमुख उद्देश्य:

वस्त्र क्षेत्र में काम करने वाली लगभग 75 प्रतिशत महिलाएं हैं जोकि बहुत अच्छी बात है इसी बात को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने इस योजना के जरिए पूरा फोकस महिलाओं पर किया है। यूपी महिला समर्थ योजना 2021 का प्रमुख उद्देश्य महिलाओं का कल्याण एवं उन्हें जमीनी स्तर पर मजबूत करना है। और उन्हें इस योजना के माध्यम से रोजगार के लिए प्रेरित करना है। सरकार की इस योजना से बेरोजगारी की दरों में कमी भी आएगी और भारत वैश्विक स्तर पर तरक्की भी कर पाएगा। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत महिलाओं को विभिन्न प्रकार के कौशल प्रशिक्षण दिए जाएंगे जिससे वे अपने उद्योग को और बेहतर बना सकें साथ ही वे अपने जीवन शैली में भी सुधार ला सके। सरकार द्वारा इस योजना की पहल के बाद राज्य की महिलाएं आत्मनिर्भर तो बनेगी ही साथ मैं औद्योगिक क्षेत्र का भी विकास होगा।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना का कार्यान्वयन

उत्तर प्रदेश सरकार की इस योजना की शुरुआत होने के पहले चरण में 200 विकास खंडों में महिला सामान्य सुविधा केंद्र विकसित किए जाएंगे। विकसित किए गए सुविधा केंद्रों पर प्रशिक्षण, सामान्य उत्पादन और प्रसंस्करण, पैकेजिंग, लेवलिंग, बारकोडिंग जैसी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। इन सुविधा केंद्रों में आने वाला खर्च का 90% राज्य सरकार देगी। संपूर्ण राज्य में महिलाओं के लिए रोजगार को बढ़ावा देने के लिए राज्य स्तरीय संचालन समिति के साथ जिला स्तरीय कमेटी को कार्य करना होगा। बनाई गई समिति हर जिले में पात्र महिला समूह और संगठनों की पहचान करेंगी एवं उनका मार्गदर्शन भी करेगी। सरकार की ओर से इस योजना के तहत राज्य के महिलाओं को रोजगार को बढ़ावा देने के लिए सामान्य जागरूकता, परामर्श कार्यक्रम, कार्यशाला और प्रशिक्षण आदि कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

UP Mahila Samarthya Yojana 2021 के लाभ 

राज्य सरकार द्वारा जारी यूपी महिला सामर्थ्य योजना 2021 के लाभ निम्नलिखित हैं।

  • यह योजना महिलाओं की आय का जरिया बनेगी जिससे महिला सशक्तिकरण होगा और उन्हें आगे बढ़ने का मौका भी प्राप्त होगा।
  • इस योजना के जरिए स्थानीय संसाधनों के आधार पर होम एंड कोटेज उद्योग के माध्यम से महिलाओं के जीवन शैली में सुधार आएगा।
  • दो स्तरीय कमेटी के तहत इस योजना का कार्यान्वयन किया जाएगा।
  • पहले कमेटी जिला स्तर पर और दूसरी कमेटी राज्य स्तर पर गठित की जाएगी।
  • महिलाओं को इन सुविधा केंद्रों पर विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण प्रदान किए जाएंगे।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना 2021 की विशेषताएं

यूपी महिला सामर्थ्य योजना की प्रमुख विशेषताएं निम्नलिखित है।

  • योजना की शुरुआत के पहले चरण में 200 विकास खंडों में महिला सामान्य सुविधा केंद्र विकसित किए जाएंगे।
  • सुविधा केंद्र पर होने वाला कुल खर्च का 90% राज्य सरकार द्वारा दिया जाएगा।
  • इस योजना के प्रारंभ होने के बाद महिलाओं को रोजगार के लिए प्रेरित किया जाएगा।
  • इस योजना की शुरुआत खासकर महिलाओं के सशक्तिकरण तथा कल्याण के लिए की गई है।
  • सरकार की ओर से महिलाओं को अपनी उपज बेचने के लिए बाजार भी उपलब्ध कराया जाएगा।
  • सरकार ने इस योजना के निष्पादन के लिए 100 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया है।
  • महिलाओं द्वारा संचालित किए गए उद्यमों को इस योजना के माध्यम से विकसित किया जाएगा।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना की पात्रता तथा महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आवेदन कर्ता का उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • वोटर आईडी कार्ड
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो आदि।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

राज्य के जो भी इच्छुक लाभार्थी है जो इस योजना के तहत आवेदन करके लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा क्योंकि राज्य सरकार द्वारा केवल अभी इस योजना की घोषणा की गई है। सूचना के आधार पर जल्दी ही सरकार द्वारा इस योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया जारी कर दी जाएगी। जैसे ही उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के तहत आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी तो हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से सूचित कर देंगे। आर्टिकल से संबंधित जानकारी प्राप्त करते रहने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल से जुड़े रहे।

तो दोस्तों, आज हमने आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से यूपी महिला सामर्थ्य योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आपको फिर भी किसी भी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ता है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top