स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

 स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना ऑनलाइन आवेदन | Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Apply | स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के धार्मिक स्थल | Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Application Form

यह एक धार्मिक यात्रा है जिसे उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के नागरिकों की धार्मिक भावनाओं का ध्यान रखते हुए शुरू किया जा रहा है। इसके लिए सरकार ने इसका नाम “स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना” रखा है। सरकार ने उत्तर प्रदेश में श्रमिकों और उनके बच्चों के लिए वित्तीय सहायता की घोषणा की है। UP Swami Vivekanand Etihasik Paryatan Yatra Yojana के तहत श्रमिकों को धार्मिक स्थलों पर जाने के लिए 12 हजार रुपये की वित्तीय सहायता दी जाएगी। इस योजना को आईआरसीटीसी या पर्यटन विभाग की किसी अन्य योजना के माध्यम से चलाने के निर्देश दिए गए हैं।

Swami Vivekanand Etihasik Paryatan Yatra 2021

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना आवेदन पत्र भरने की प्रक्रिया 24 जनवरी 2020 (यूपी राज्य स्थापना दिवस) से शुरू होगी। वे श्रमिक जिन्होंने लगभग 6.5 लाख वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों और यूपी में 20,500 कारखानों और कार्यशालाओं में काम किया है, वे धार्मिक यात्रा कर सकते हैं। इस काम के लिए मजदूरों को योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। यहां हम आपको UP Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 Form PDF व योजना से जुडी सभी महतवपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। इसके लिए आपको हमारा आर्टिकल को अंत तक ध्यान से पढ़ना होगा।

UP Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Form PDF

जैसा की हमने आपको बताया की उत्तर प्रदेश में तीर्थयात्रा के लिए राज्य सरकार द्वारा 12 हजार रुपये दिए जाएंगे,इसके साथ ही खेल में अच्छा पर्दशन करने वाले बच्चों को 1 लाख तक का प्रोत्साहन मिलेगा। UP Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 Application Form भरने की प्रक्रिया जल्द ही उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की जाने वाली है। सभी आवेदक जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक यात्रा योजना 2021 के बारे में सभी जानकारी विस्तार से प्रदान करेंगे।जैसे योजना लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की मुख्य विशेषताएं, आवेदन की स्थिति, आवेदन प्रक्रिया आदि –

योजना का नाम  स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना (SVEPYY)
राज्य का नाम  उत्तर प्रदेश
शुरू किया गया  उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थी  उत्तर प्रदेश के नागरिक
लाभ  यात्रा के लिए सब्सिडी 12000
उदेश  धार्मिक यात्रा के लिए श्रमिकों को वित्तीय सहायता प्रदान करना।
आवेदन की तिथि  24 जनवरी 2021
आवेदन की अंतिम तिथि  उपलब्ध नहीं
आधिकारिक वेबसाइट  uplabour.gov.in 

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के धार्मिक स्थल

इस उत्तर प्रदेश धार्मिक यात्रा योजना के तहत निम्नलिखित धार्मिक स्थानों को शामिल किया गया है।

  • अयोध्या
  • मथुरा
  • प्रयागराज
  • वाराणसी
  • हस्तिनापुर (मेरठ)
  • गोरखपुर का गोरखनाथ मंदिर
  • शाकुंभरी देवी और वैष्णो देवी मंदिर

यह योजना उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस 24 जनवरी को शुरू की जाएगी। इसके तहत, धार्मिक स्थानों की यात्रा करने के लिए राज्य में लगभग 6.5 लाख वाणिज्यिक सेटअपों और 20,500 कारखानों और कार्यशालाओं में कार्यरत प्रत्येक चयनित मजदूरों के खाते में 12,000 रुपये की राशि हस्तांतरित की जाएगी।

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना 2021 के उद्देश्य

स्वामी विवेकानंद के नाम पर बनी यह योजना पहली तरह की होगी और इसका उद्देश्य यह सुनिश्चित करना था कि मजदूर न केवल अपने दैनिक जीवन से समय निकाल सकें, बल्कि देश की समृद्ध सांस्कृतिक और धार्मिक विरासत से भी परिचित हो सकें। इसके लिए सरकार द्वारा लाभार्थी मजदूर को 12000 की आर्थिक सहायता यात्रा हेतु प्रदान करेगी।

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 की विशेषताएं

  • यह प्रक्रिया राज्य के श्रम कल्याण बोर्ड के साथ शुरू होगी, जिसका लाभ उठाने के लिए, बोर्ड के साथ पंजीकृत लगभग 1.5 करोड़ मजदूरों से आवेदन आमंत्रित किए जाएंगे।
  • बोर्ड ने धार्मिक शहरों अयोध्या, मथुरा, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखनाथ मंदिर, शाकुंभरी देवी, विंध्यवासिनी देवी और हस्तिनापुर (मेरठ में) की पहचान की थी।
  • Uttar Pradesh Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021के तहत द्वारा धार्मिक यात्रा के लिए राज्य सरकार द्वारा 12000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेंगी।

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना पात्रता मानदंड

यदि आप उत्तर प्रदेश स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, तो आपके पास इसके लिए निम्नलिखित पात्रता का होना आवश्यक है –

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता राज्य का पंजीकृत मजदूर होना चाहिए।
  • आवेदन करने के लिए पंजीकृत मजदूर होना चाहिए, जिसने यूपी राज्य श्रम कल्याण बोर्ड के साथ अपना पंजीकरण पूरा किया हो।
  • उम्मीदवार को वर्तमान में वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों, कारखानों, कार्यशालाओं में नियोजित किया जाना चाहिए।

यूपी स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्डराशन कार्ड श्रमिक कार्ड पहचान पत्र
आवास प्रामाण पत्रबैंक डिटेल्स पासपोर्ट साइज फोटो मोबाइल नंबर

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना आवेदन पत्र 2021

यदि आप यूपी मुख्यमंत्री ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना आवेदन फॉर्म प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश श्रमिक विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहां आपको होम पेज पर “Special Schemes” के तहत More पर क्लिक करना होगा।

Swami Vivekananda Itihasik Paryatan Yatra Yojana Online Application Form

  • क्लिक करते ही आपके सामने एक पेज खुल जायेगा। यहां राज्य में चल रही कई योजनाओ के लिंक दिखाई देंगे।
  • आपको यहां स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने यूपी स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
    या आप नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से भी फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं।

SWAMI VIVEKANAND ETIHASIK PARYATAN YATRA YOJANA FORM PDF DOWNLOAD

  • यहां क्लिक करते ही आपके सामने UP Mukhyamantri Etihasik Paryatan Yatra Yojana Form PDF खुल जायेगा।

Mukhyamantri Etihasik Paryatan Yatra Yojana Form 2021

  • फॉर्म डाउनलोड करने के बाद आपको इसमें पूछी गयी सभी जानकारी को ध्यान से भरना होगा। जैसे कि श्रमिक का नाम, पिता का नाम, जन्म तिथि, लिंग और अन्य जानकारी
  • इसके बाद मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेज संलग्नं कर फॉर्म को नजदीकी श्रमिक विभाग के कार्यालय में जमा करना होगा।
  • इसके बाद आपके आवेदन पत्र की विभाग के अधिकारीयों द्वारा जाँच की जाएगी। जाँच में आपके द्वारा दी गयी जानकारी सही पाए जाने पर आपको उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा २०२१ हेतु आर्थिक सहायता आपके खाते में डाल दी जाएगी।
  • जिसकी सुचना आपको आपके मोबाईल पर एसएमएस के माध्यम से प्राप्त हो जाएगी।
  • इस प्रकार आप Mukhyamantri Etihasik Paryatan Yatra Yojana Form के माध्यम से आसानी से अपना आवेदन कर सकते हैं।

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना ऑनलाइन आवेदन की स्थिति

यदि आप उत्तर प्रदेश स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना ऑनलाइन आवेदन की स्थिति की जाँच करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको निम्न चरणों का पालन करना होगा।

  • इसके लिए आपको सबसे पहले यूपी श्रमिक विभाग की आधिकारिक वेबसाइट (http://uplabour.gov.in/) पर जाना होगा।
  • यहां आपको होम पेज पर “Special Schemes” के तहत More पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक पेज खुल जायेगा। जैसा नीचे दिखाया गया है –

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Online Application Status

  • यहां आपको “Worker” के कॉलम में Registration Status पर क्लिक करना होगा।
    क्लिक करते ही आपके सामने एक पेज खुल जायेगा।
Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Check Online Status
Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Check Online Status
  • यहां आपको अपनी पंजीयन संख्या/ आवेदन संख्या दर्ज करनी होगी। इसके बाद आपको अपना मोबाईल नंबर दर्ज कर “Search” पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने आपके आवेदन की स्थति खुल जाएगी।
  • इस प्रकार आप आसानी से स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना ऑनलाइन आवेदन की स्थिति की जाँच कर सकते हैं।

यूपी सरकार इस साल दो और योजनाओं की शुरुआत करेगी

आपको बता दे की उत्तर प्रदेश सरकार इस वर्ष २०२१ में राज्य में दो और योजनाओं को शुरू करने का विचार बना रही है। एक का नाम भारत के पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान के नाम पर मजदूरों के बीच खेल गतिविधियों को प्रोत्साहित करने के लिए और दूसरा नाम प्रसिद्ध साहित्यकार महादेवी वर्मा के नाम पर गरीब छात्रों की किताबें खरीदने में मदद करने के लिए रखा गया है।

महादेवी वर्मा पुस्तक क्रय आर्थिक सहायता योजना के तहत कारखानों में काम करने वाले मजदूरों की बेटियों को उच्च शिक्षा में किताबें खरीदने के लिए 7.5 हजार रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

इसके साथ ही सरकार ने खेल में अच्छा प्रदर्शन करने वाले श्रमिकों के बच्चों के लिए मदद की भी घोषणा की है। इसके तहत जिला स्तर पर चयन के लिए 10 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि, राज्य स्तर पर 25 हजार रुपये, राष्ट्रीय स्तर पर 50 हजार रुपये और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चयन के लिए 1 लाख रुपये दिए जाएंगे। लाभार्थियों के चयन के लिए जिला मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में एक समिति गठित करने के निर्देश दिए गए थे। क्षेत्रीय उप श्रम आयुक्त और जिला खेल अधिकारी को समिति में सदस्यों के रूप में शामिल किया जाएगा। उत्तर प्रदेश की इन नई योजनाओं की पूर्ण जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट के साथ बने रहें।

यहां हमें आपको Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Application Form, स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना ऑनलाइन आवेदन से संबंधित सभी जानकारी विस्तार से बताई है, यदि आप इससे संबंधित कोई अन्य सवाल या जानकारी के बारे में पूछना हो, तो आप हमे नीचे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। हम जल्द से जल्द आपको जवाब देंगे। उत्तर प्रदेश व अन्य सभी राज्यों की सरकारी योजनाओं की सबसे पहले जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट www.yojanaappliactionform.com के साथ बने रहें। धन्यवाद –

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top