सरपंच कि सैलरी कितनी होती है सरपंच कैसे कमाते है Sarpanch Ki Salary

सरपंच की सैलरी कितनी होती है, gram Sabha Adhyaksh, सरपंच का वेतन कितना होता है Sarpanch salary, सरपंच कैसे बने, सरपंच बनने के लिए जरुरी, सरपंच के लिए आवेदन फॉर्म, Sarpachan Application Form,

हम सभी को पता है कि हर के गावं का एक सरपंच जरूर होता है जो उस गावं के मुद्दे को हल करता है। लेकिन क्या आपको पता है कि आखिर सरपंच की तनख्वा कितनी होती है। आज के इस पोस्ट में हम जानने वाले हैं कि सरपंच कैसे बनते है। उनकी सैलरी कितनी होती है , पैसे कैसे कमाते है आदि सभी सवालों के जवाब आपको मिलेंगे। पंचायती राज व्यवस्था हमेशा से ग्रामीण इलाके में लागू की गई है।  पंचायती व्यवस्था और सरपंच के बारे में सम्पूर्ण ज्ञान लेने के लिए आपको इस पोस्ट को पूरा पढ़ना पड़ेगा।

सरपंच की सैलरी कितनी होती है व सरपंच कैसे कमाते है?

बहुत से लोग ग्रामीण में रहने वालों के मन में जरूर रहता होगा कि आखिर सरपंच की सैलरी कितनी होती होगी। कुछ लोगों का मानना है कि वह लाखों रुपए कमाते होंगे लेकिन ऐसा नहीं है। उनकी इतनी ज्यादा सैलरी नहीं होती है। उनको चुनाव में लाखों रुपए खर्च करने पड़ते है ताकि वह चुनाव जीत जाएँ। सरपंच बनने के बाद उन्हें ग्रामीण लोग इज़्ज़त से देखते हैं और जो भी मसला होता है सरपंच ही हल करता है। सरपंच की सैलरी 3 हजार रुपए होती है और उपसरपंच की सैलरी 1500 रुपए  होती है।

ग्राम प्रधान कि सैलरी कितनी होती है

About This Post सरपंच की सैलरी
Location india
in This post सरपंच की सैलरी कितनी होती है सरपंच पैसे कैसे कमाते है Sarpancha Sailari, Sarpanch Chunav Apply , Eligibility, document etc.
Benefits Sarpanch benefites in 5 year

सरपंच की सैलरी सरपंच कि कमाई Sarpanch salary 2021 

भारत  पांच साल में एक बार चुनाव होता है जिसमे मुखिया का भी चुनाव होता है। बहुत से सरपंच के अंतर्गत एक से ज्यादा गावं भी आते हैं। इसके साथ ही ग्राम पंचायत मे वार्डपंच भी होते है ग्राम पंचायत को राज्य और केंद्र सरकार की तरफ से विकास के लिए 7 से 8 करोड़ राशि दी जाती है। ग्राम पंचायत को यह सभी रुपए गावं के विकाश में खर्च करने होता हैं जैसे सड़क, पानी,स्वास्थ्य आदि पर। महीने मे एक ग्राम सभा बैठक मे सरपंच को 100 रु भत्ता दिया जाता है।

सरपंच कि सैलरी लिस्ट

  • जिला परिषद अध्यक्ष: 12 हजार रुपए प्रतिमाह,
  • जिला परिषद उपाध्यक्ष: 10 हजार रुपए प्रतिमाह,
  • पंचायत समिति प्रमुख: 10 हजार रुपए प्रतिमाह,
  • पंचायत समिति उप-प्रमुख: 5 हजार रुपए प्रतिमाह,
  • मुखिया: 2500 रुपए प्रतिमाह,
  • उप मुखिया: 1200 रुपए प्रतिमाह,
  • सरपंच: 2500 रुपए प्रतिमाह,
  • उप सरपंच: 1200 रुपए प्रतिमाह,
  • जिला परिषद सदस्य: 2500 रुपए प्रतिमाह,
  • पंचायत समिति सदस्य: 1000 प्रतिमाह,
  • वार्ड सदस्य: 500 रुपए प्रतिमाह,
  • पंच: 500 रुपए प्रतिमाह,
  • न्यायमित्र: 7000 रुपए प्रतिमाह,

सरपंच कैसे कमाते है Sarpanch Banne Ke Benefites सरपंच की सैलरी

सरपंच सिर्फ अपनी सैलरी पर निर्भर नहीं रहता है उसके पैसे कमाने के बहुत से सोर्स होते हैं। कोई भी व्यक्ति लाखों का खर्चा करके भला सरपंच क्यों बनेगा जबकि उसकी महीने की कमाई सिर्फ 3 हज़ार रुपए हैं। अगर हम 5 साल की कुल कमाई निकाले तो यह 1 लाख 80 हजार होते है। अगर हम इसे पांच साल के हिसाब से देखें तो यह कुछ भी नहीं है। आखिर सवाल यह उठता है कि यह सरपंच कमाते कहाँ से हैं।

असल यह है कि राज्य सरकार या फिर केंद्र सरकार द्वारा मिला रुपए विकास में ये तो लगाते नहीं है अगर लगाते हैं तो वह बहुत ही कम लगाते हैं। सरपंच को यह पैसा ग्रामीण लोगों के लिए सुविधा करने और गावं का विकास करने के लिए मिलता है। लेकिन ववह झूठी रिपोर्ट बनाकर सरकार के सामने पैश कर देते है जिसमे वह लगने वाले व्यय को बड़ा चढ़ाकर बताते हैं।

हम ऐसा नहीं कह रहे हैं कि सभी सरपंच ऐसे होते हैं। बहुत से ऐसे सरपंच भी होते हैं जो दिलो जान से लोगों की सेवा में लगे रहते हैं लेकिन फिर भी वह थोड़ा से पैसा अपनी जेब में रखी ही लेते हैं।

सरपंच कैसे कमाते है (सरपंच की सैलरी)

इसमें मिलने वाला पैसा सिर्फ सरपंच अपने तक ही नहीं रखता है बल्कि सबका मुँह बंद करने के लिए आपस में बांटता भी है। ताकि कुछ भी बात होने पर वह सभी उसके साथ खड़े हो सकें। अगर हम यह मानकर चलते है कि सरपंच को 5 लाख रुपए दिए गए हैं लेकिन वह पूरे 5 लाख रुपए खर्च नहीं करेगा बल्कि उसमे से 2 लाख तक या उससे भी ज्यादा अपने पास बचा कर रख लेगा।

हमारा मकसद सरपंच की खामियों को निकालना नहीं है लेकिन सच बताना भी जरूरी है। इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको बहुत -सी जानकारियों को प्राप्त किया होगा। इसमें हमने सैलरी से जुडी प्रत्येक बात करली हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *