[आवेदन] पन्नाधाय जीवन अमृत योजना 2021: जनश्री बीमा योजना फॉर्म PDF Download

Rajasthan Pannadhay Jivan Amrit Yojana:- राजस्थान सरकार द्वारा गरीबी की रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार को बीमा का लाभ देने के लिए “Pannadhay Jivan Amrit Yojana” को 14 अगस्‍त, 2006 से राजस्‍थान राज्‍य में भारतीय जीवन बीमा निगम की “जनश्री बीमा योजना/Janashree Bima Yojana” के रूप में योजना प्रारम्‍भ की गई है। यह योजना ग्रामीण क्षेत्र के लिये बी.पी.एल. सर्वे 2002 एवं शहरी क्षेत्र के लिए बी.पी.एल. सर्वे 2003 में चयनित परिवारों के लिए प्रारम्‍भ की गई है। दिनांक 14.08.07 से आस्‍था कार्ड धारक परिवारों को भी इस योजना में स    म्मिलित किया गया है।Rajasthan Pannadhay Yojana आम आदमी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इस योजना को “आम आदमी बीमा योजना” या “जनश्री बीमा योजना” के नाम से भी जाना जाता है।

“Rajasthan Pannadhay Jivan Amrit Yojana 2021” के अन्‍तर्गत बीमित परिवार के मुखिया की मृत्‍यु होने पर 30 हजार रूपये तथा दुर्घटना मृत्‍यु की स्थिति में 75 हजार रूपये देने का प्रावधान किया गया है। साथ ही शारीरिक अपंगता होने पर भी सहायता राशि भुगतान करने का प्रावधान है। बीमित सदस्‍य के कक्षा 9 से कक्षा 12 तक के दो बच्‍चों को 100 रूपये प्रतिमाह की दर से प्रतिवर्ष तिमाही आधार पर छात्रवृत्ति देने का प्रावधान भी janashree scholarship 2021 के अन्‍तर्गत है। मूल रूप से यह योजना राज्‍य सरकार द्वारा समाज के निर्धनतम परिवार को आर्थिक सहायता पहुंचाने के उद्देश्‍य से नि:शुल्‍क संचालित की जा रही है। Rajasthan Pannadhay Yojana के तहत बीमित परिवार के बीमित सदस्‍य की प्रीमियम राशि 100 रूपये प्रतिवर्ष का राज्‍य सरकार द्वारा भारतीय जीवन बीमा निगम को भुगतान किया जायेगा।

राजस्थान में पन्नाधाय जीवन अमृत योजना (जनश्री बीमा योजना) क्या है?

राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई पन्नाधाय जीवन अमृत योजना गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले सभी गरीब लोगों के लिए बेहद फ़ायदेमंद है। इस योजना के तहत, उन बीपीएल परिवारों को लाभ मिलता हैं, जिनके मुख्य सदस्य (परिवार के मुखिया), जो घर चला रहे थे, किसी कारणवश उनकी मृत्यु हो जाती है। इसलिए इस योजना के माध्यम से परिवार को वित्तीय सहायता दी जाती है। इस योजना के तहत, कक्षा 9 से 12 वीं तक शिक्षा के लिए बीपीएल परिवारों के बच्चों को छात्रवृत्तियां दी जाती हैं। पन्नाधाय जीवन अमृत योजना का प्राथमिक उद्देश्य सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना तथा गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति को वित्तीय सुरक्षा देना। इस योजना के तहत, केवल वे लोग ही लाभ उठा सकते हैं, जिनके पास बीपीएल कार्ड है या बीपीएल श्रेणी या ट्रस्ट कार्डधारक के तहत पंजीकृत परिवार इस योजना के माध्यम से लाभ भी प्राप्त कर सकता है।

योजना का नाम   पन्नाधाय जीवन अमृत योजना
राज्य   राजस्थान
योजना का उप नाम   जनश्री बीमा योजना
शुरू की गयी   राजस्थान सरकार द्वारा
लाभार्थी   गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले
लाभ   मुखिया की मृत्‍यु होने पर सहायता राशि
उदेश्य   गरीब नागरिकों की सहायता करना
आधिकारिक वेबसाइट  यहां क्लिक करें

पन्नाधाय जीवन अमृत योजना (जनश्री बीमा योजना) के लिए योग्यता मानदंड

पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के लिए आवेदन करने के लिए, परिवार को निम्नलिखित मानदंडों को पूरा करना होगा।

  • यदि आप इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो राजस्थान के मूल निवासी होना अनिवार्य है।
  • इस योजना के तहत, यदि आप किसी प्रकार का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपके पास आशा कार्ड या बीपीएल कार्ड होना चाहिए।
  • परिवार के मुख्य सदस्य का बीमा पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के तहत किया जाएगा, जिसका अर्थ है कि जो व्यक्ति परिवार के लिए कमाता है उसे केवल उसकी मृत्यु पर वित्तीय सहायता के रूप में राशि दी जाएगी।
  • यदि परिवार के मुखिया की किसी कारण से मृत्यु हो जाती है तो केवल एक परिवार (माता-पिता व पत्नी-बच्चे) इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • इस योजना के लाभ प्राप्त करने के लिए परिवार के मुखिया की उम्र 18 से 59 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के तहत प्राप्त बीमा राशि

राजस्थान में पन्नाधाय जीवन अमृत योजना (जनश्री बीमा योजना) के तहत बीपीएल धारकों के परिवारों को निम्नलिखित सहायता प्रदान की जाती है।

  • यदि किसी भी कारण या बीमारी के कारण परिवार का मुख्य सदस्य मर जाता है, तो 30,000 रुपये (तीस हजार रुपये) की राशि पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के तहत बीपीएल परिवार को वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी।
  • यदि परिवार के मुखिया की दुर्घटना के कारण मृत्यु हो जाती है या दुर्घटना के बाद वह व्यक्ति शारीरिक रूप से विकलांग हो जाता है, तो बीपीएल परिवार को 75,000 रुपये (पिचत्तर हजार रुपये) वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान किया जाएगा।
  • यदि बीपीएल परिवार के प्रमुख के दुर्घटना या हाथ में दोनों पैर टूट गए हैं तो बीपीएल परिवार को वित्तीय सहायता के रूप में 75,000 रुपये (पिचत्तर हजार रुपये) प्रदान किए जाएंगे।
  • यदि कोई व्यक्ति किसी भी अंग या एक हाथ या एक पैर जैसे किसी भी अंग से अपंग होता है। फिर इस योजना के माध्यम से, परिवार के सदस्य को वित्तीय सहायता के रूप में 37,000 रुपये (तीस सात हजार रुपए) की राशि प्रदान की जाएगी।

Pannadhay Jivan Amrit Yojana 2021 के तहत छात्रवृत्ति सहायता

राजस्थान सरकार पन्नाधाय जीवनअमृत योजना के माध्यम से छात्रवृत्ति /Pannadhyay Jeevan Amrit Scholarship Scheme में कक्षा 9वीं से 12 वीं के छात्रों को सहायता प्रदान करती है। राज्य सरकार इस योजना के माध्यम से बीपीएल परिवार के सभी छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान करती है। बीपीएल परिवारों के केवल 2 छात्रों को प्रति वर्ष 1,200 / – रुपये की छात्रवृत्ति दी जाती है जिसे केवल 4 साल तक ही दिया जा सकता है। योग्य छात्रों को छात्रवृत्ति प्रति माह 100 / – रुपये दी जाती है। इस योजना के तहत, बीपीएल परिवार के एक छात्र को 4,800 रुपये  प्रदान किए जाते हैं ताकि प्रत्येक परिवार में हर गरीब बच्चे को अच्छी शिक्षा मिल सके।

पन्नाधाय जीवन अमृत योजना (जनश्री बीमा योजना) के लिए आवेदन कैसे करें?

यदि आप पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के लिए योग्य हैं और इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको निर्धारित फॉर्म में आवेदन भरना होगा। आवेदन पत्र सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग, भारत सरकार (sje.rajasthan.gov.in) की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है या कोई इसे आसानी से सामाजिक कल्याण विभाग के कार्यालय से प्राप्त कर सकता है। फॉर्म प्राप्त करने के बाद, आपको उस एप्लिकेशन में पूछे गए सभी विवरणों को भरना होगा। इसके बाद, फॉर्म में मांगी गई सभी दस्तावेजों के साथ सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग को विधिवत भरे हुए आवेदन पत्र जमा करें।

(I) पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के तहत एक दुर्घटना का दावा करें: –

यदि आप अपने परिवार के मुख्य सदस्य की मृत्यु हो जाती है या किसी भी प्रकार की त्रासदी आपके परिवार के मुख्य व्यक्ति के साथ घट जाती है तो आप पन्नाधाय जीवन अमृत योजना (जनश्री बीमा योजना) के तहत दुर्घटना सहायता का दावा कर सकते हैं। ज्यादातर मामलों में, इस योजना के तहत पति या पत्नी द्वारा लाभ प्राप्त होता है, लेकिन यदि पति या पत्नी नहीं है, तो परिवार के सबसे बड़े बच्चे इस योजना के तहत दावा कर सकते हैं। आप दावा के लिए अपने ग्राम प्रधान या नगर पालिका परिषद या नगर निगम से संपर्क कर सकते हैं अगर परिवार के मुखिया को दुर्घटनाग्रस्त हो गया हो या दुर्घटना में मृत्यु हो गई हो।

दावा प्रस्‍तुत करते समय आवेदन पत्र के साथ संलग्‍न किये जाने वाले दस्‍तावेज
  • मृत्‍यु प्रमाण पत्र – सामान्‍य एवं दुर्घटना की दशा में मृत्‍यु होने पर।
  • पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट – दुर्घटना के कारण मृत्‍यु की दशा में।
  • प्रथम सूचना रिपोर्ट – दुर्घटना के कारण मृत्‍यु/ स्‍थायी अपंगता की दशा में।
  • पुलिस अंवेषण रिपोर्ट – दुर्घटना के कारण मृत्‍यु/स्‍थायी अपंगता की दशा में।
  • अधिकृत सरकारी चिकित्‍सक द्वारा अपंगता प्रमाण पत्र – दुर्घटना के कारण स्‍थायी अपंगता

(अ) स्‍थायी पूर्ण अपंगता (ब) अंगों की हानि/दृष्टिहीनता।

  • आयु के साक्ष्‍य के रूप में उक्‍त दस्‍तावेज के संबंधित भाग की फोटो प्रति ग्राम सेवक/ अधिशाषी अधिकारी, नगरपालिका द्वारा सत्‍यापित कर संलग्‍न की जाए।
  • अपंगता की स्थिति में सादा कागज पर प्रार्थना पत्र जिसमें अपंगता का विवरण अधिकृत सरकारी चिकित्‍सक द्वारा जारी अपंगता प्रमाण पत्र के साथ, बैंक खाता नम्‍बर तथा बैंक का नाम, पता भरकर ग्रामसेवक/ अधिशाषी अधिकारी से प्रमाणित कराकर भिजवाया जावे।

यदि बीपीएल परिवार के प्रमुख की मृत्यु हो जाती है तो नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के तहत ‘जनश्री बीमा योजना फॉर्म’ डाउनलोड करें।

Pannadhay Jeevan Amrit Yojana Claim Form PDF

(II) पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के तहत छात्रवृत्ति प्राप्त करें: –

यदि आप राजस्थान में पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के तहत छात्रवृत्ति प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको गांव के ग्राम प्रधान या भारतीय जीवन बीमा निगम के विकास अधिकारी द्वारा निर्धारित फॉर्म में एक आवेदन भरना होगा। प्रत्येक बीपीएल परिवार के केवल 2 बच्चे इस योजना के तहत छात्रवृत्ति लाभ का लाभ उठा सकते हैं। परिवार के प्रमुख के बैंक अकाउंट में प्रत्यक्ष हस्तांतरण के माध्यम से योग्य छात्रों को मासिक आधार पर छात्रवृत्तियां प्रदान की जाएंगी।

Pannadhay Jivan Amrit Yojana Scholarship का लाभ उठाने के लिए, नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से आवेदन पत्र डाउनलोड करें।

Pannadhay Jeevan Amrit Yojana Scholarship Application Form PDF  

पन्नाधाय जीवन अमृत योजना छात्रवृत्ति हेतु पात्रता :
  1. बीमित सदस्‍य के 9वीं, 10वीं, 11वीं तथा 12वीं कक्षा में अध्‍ययनरत अधिकतम 2 बच्‍चों को देय है।
  2. अभिभावक का इस योजना के अधीन बीमित होना आवश्‍यक है।
  3. छात्र के अनुत्‍तीर्ण होने की दशा में छात्रवृत्ति का भुगतान देय नहीं है।
जनश्री बीमा योजना छात्रवृत्ति का लाभ:
  • 100 रूपये प्रतिछात्र प्रतिमाह अथवा 300 रूपये प्रतिछात्र प्रति तिमाही के आधार पर प्रतिवर्ष 1200 रूपये प्रतिछात्र किन्‍तु अधिकतम 4 वर्षों के लिए देय है।
  • छात्रवृत्ति का भुगतान शैक्षणिक सत्र जून से मई तक की अवधि के लिए किया जाता है।

पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के लिए आवेदन पीडीएफ डाउनलोड करें

पन्नाधाय जीवन अमृत योजना के तहत आवेदन पत्र, छात्रवृत्ति फॉर्म, और बीमा दावा फॉर्म डाउनलोड करने के लिए तत्कालीन सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग, राजस्थान सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं या आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके सीधे डाउनलोड कर सकते हैं।

बीपीएल परिवार के सदस्य नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से “पन्नाधाय जीवन अमृत योजना form download” डाउनलोड कर सकते हैं।

संपर्क विवरण राजस्थान पन्नाधाय जीवन अमृत योजना

इस योजना से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए, आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबरों को कॉल करके सीधे संबंधित विभाग से संपर्क कर सकते हैं।

सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग, राजस्थान सरकार

  • कार्यालय का पता: – जी -3 / 1, अम्बेडकर भवन, राजमहल रेजीडेंसी एरिया, जयपुर
  • भारतीय जीवन बीमा विभाग संख्या: – (0141) 2747-057 / 2743-761
  • सामाजिक न्याय विभाग, जयपुर: – (0141) 2226-639 / 2226-627
  • आधिकारिक वेबसाइट: – www.sje.rajasthan.gov.in

यहां हमने जनश्री बीमा योजना (Download Insurance Claim & Scholarship Forms at sje.rajasthan.gov.in) के बारे में पूरी जानकारी प्रदान कि आप राजस्थान में पन्नाधाय जीवन अमृत योजना 2021-21 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे कर सकते हैं। यदि आपके पास इस पोस्ट से संबंधित कोई प्रश्न है तो नीचे कमेंट बॉक्स में अपना सवाल हम से पूछें।हम जल्द ही आपके सवालों का जवाब देंगे। अन्य सभी राज्य व केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाओं की सबसे पहले जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट www.yojanahindipm.in के साथ बने रहें। 

1 thought on “[आवेदन] पन्नाधाय जीवन अमृत योजना 2021: जनश्री बीमा योजना फॉर्म PDF Download”

  1. Dera sir mare papa ka is yojna me form bhara tha so abhi Tak koi amount prapat nhi hui hai. Abhi me kya kru. Help me sir

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *