मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2021: किसान ऑनलाइन पंजीयन (MP E Uparjan 2021), mpeuparjan.nic.in Portal

Madhya Pradesh E Uparjan Online Portal | ई उपार्जन मध्य प्रदेश पोर्टल पंजीकरण प्रक्रिया | मध्य प्रदेश ई उपार्जन किसान ऑनलाइन पंजीयन

आप सभी जानते होंगे भारत सरकार किसान भाइयों को लाभ पहुंचाने के लिए सभी प्रकार की योजना एवं ऑनलाइन पोर्टल शुरू करती आ रही है ताकि देश के किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े। तो दोस्तों चलिए आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई “MP E Uparjan 2021-22” जानकारी आप लोगों के साथ शेयर करेंगे। मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य के किसानों की रबी सीजन कृषि उपज यानि गेहूँ को बेचने के लिए ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया है।

अब प्रदेश के किसनो को रबी सीजन की फसल को बेचने के लिए इधर उधर भटकने की आवश्यकता नहीं होगी। आप इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते है। नीचे लेख में हम आपको मध्यप्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल से जुडी जानकारी जैसे Purpose,benefits, application process, helpline number यह सभी जानकारी नीचे आर्टिकल में प्रदान कर रहे है हमारे इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

एमपी ई उपार्जन पोर्टल 2021

आपको बता दे की MP E Uparjan 2021-22 राज्य किसानों के लिए शुरू किया गया है। जिसके तहत अब मध्यप्रदेश राज्य के जो किसान खरीफ सीजन के दौरान समर्थन मूल्य पे अपनी फसल भारत सरकार को बेचना चाहते हैं। उनको शुरू किये गए ऑनलाइन पोर्टल पे पंजीकरण करवाना होगा।

फरवरी अपडेट => रबी सीजन की फसल खरीदी के लिए पंजीयन की तारीख बढ़ाई गयी

मध्य प्रदेश सरकार ने रबी फसल खरीदी की तारीख को बढ़ाकर 25 फरवरी तक कर दिया है। अब किसान फसल खरीदी के लिए 25 फरवरी तक पंजीयन कर सकते हैं। यह पंजीयन किसान ई-उपार्जन पोर्टल पर किया जायेगा। मध्य प्रदेश सरकार द्वारा 15 मार्च से फसलों की खरीदी शुरू की जाएगी। इस बार एमपी सरकार ने समर्थन मूल्य (MSP) पर गेहूं खरीदी की दाम 1,975 रुपये प्रति क्विंटल तय की है। जिसके लिए मध्य प्रदेश में 4,529 खरीद केंद्र बनाये जायेंगे। इन केंद्रों में लगभग 20 लाख किसान समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचेंगे। मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार में इस बार एक साथ चार फसलों चना, सरसों, मसूर और गेहूं की फसल की खरीदी का फैसला लिया है। इससे किसानो को गेंहू की फसल बेचने के बाद अन्य फसल बेचने के लिए मई-जून तक का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

ई उपार्जन पोर्टल किसान ऑनलाइन पंजीयन

वैसे तो आप सभी जानते होंगे की पिछले वर्ष एमपी ई उपार्जन पोर्टल की प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया गया था। लेकिन इस बार भी सरकार ने पंजीकरण प्रक्रिया को ऑनलाइन ही कर दिया है। लेकिन इस बार सरकार ने इस पंजीकरण प्रक्रिया में थोड़े बहुत बदलाव किये हुए है। पिछले साल MP ई उपार्जन ऑनलाइन पंजीकरण को केवल कृषि उपज मंडी के माध्यम से किया गया था। जिससे किसानों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही थी। लेकिन अब इस साल Madhya Pradesh government ने राज्य के किसान भाइयों को बिना किसी परेशानी के घर बैठे इंटरनेट के द्वारा ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाने की विधि को आसान कर दिया है।

Key Highlights Of MP E Uparjan 2021-22

योजना  एमपी ई उपार्जन
शुरू की गयी    मध्य प्रदेश सरकार द्वारा
कब शुरू हुई   15 अप्रैल 2020
लाभार्थी   प्रदेश के किसान भाई
उद्देश्य   ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध करना
आवेदन प्रक्रिया   ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट यहाँ क्लिक करें

MP E Uparjan का उद्देश्य

मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2021-22-पिछले पिछले साल मंडी के दौरान किसानों को काफी सारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ था। जिसकी वजह से किसानों ने अपनी फसल सस्ते दामों पर बेच दी थी अब इन सभी समस्याओं को देखते हुए। राज्य सरकार ने इस बार किसानों को किसी के प्रकार की समस्या तथा नुकसान से बचाने के लिए एमपी ई उपार्जन पोर्टल की शुरुआत की है। अप राज्य के किसान इस वर्ष की फसल को बेचने के ई उपार्जन पोर्टल पर ई प्रोक्योरमेंट पोर्टल पंजीकरण करा सकते हैं। पंजीकरण करवाने के लिए आप किसी भी कंप्यूटर चलाने वाले व्यक्ति के साथ घर बैठकर ऑनलाइन कर सकते हैं। इससे आपका टाइम तथा धन दोनों की बचत होगी।

मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल के लाभ तथा विशेषताएं

  • पोर्टल के तहत अब प्रदेश के किसान घर बैठे कंप्यूटर,मोबाइल से भी ऑनलाइन पंजीकरण करा सकते है।
  • इस पोर्टल सिर्फ राज्य के किसानों के लिए है।
  • इस लेख में हम आपको mobile app की जानकारी भी देंगे आप मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल मोबाइल ऐप डाउनलोड करके लाभ उठा सकते है।
  • राज्य सरकार द्वारा मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2021-22 के अंतर्गत किसानो को किसी भी प्रकार की परेशानियों नहीं होंगी।
  • ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू होने से राज्य के किसानों की समय की बचत होगी।

ई उपार्जन पोर्टल किसान ऑनलाइन पंजीयन

  • राज्य के जो किसान भाई इस एमपी ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते है। वह नीचे दिए गए गतिविधियों का पालन करें।
  • इस साल Madhya Pradesh राज्य के सभी किसान आधार कार्ड नंबर और समग्र आईडी केअनुसार पंजीकरण कर सकते है।
  • MP E Uparjan Portal के अंतर्गत आपके पास समग्र आईडी का होना आवश्यक है। तभी आप पंजीकरण कर सकते हैं जब आपके पास समग्र आईडी हो।
  • आवेदक द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने समय अपने द्वारा दर्ज की गई बैंक खाता जानकारी की जांच करनी चाहिए।
  • मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल 2021-22रजिस्ट्रेशन करने आपके पास फ़ोन नंबर होना जरुरी है। और आपका फ़ोन नंबर आधार से लिंक होना चाहिए।
  • पंजीयन के बाद पावती प्रिंट करें तथा खरीदी के समय पावती ले जाना अनिवार्य है।

एमपी ई उपार्जन 2021-22के जरुरी दस्तावेज

MP e-Uparjan Portal- ऑनलाइन पंजीयन करने के लिए आपके पास निम्नलिखित दस्तावेजों का होना अनिवार्य है।

  • आवेदक की समग्र आईडी कॉपी
  • किसान का आधार कार्ड नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट विवरण
  • ऋणपुस्तिका
  • जो अभी चालू है मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

एमपी ई उपार्जन प्रोसेस

एमपी ई उपार्जन के तहत छह चरण आते हैं किसने की माल खरीदने, परिवहन वह माल बेचने इत्यादि सभी शामिल है। यह छह चरण निम्नलिखित है:–

  • सबसे पहले किसान को खरीद केंद्र जाकर अपना पंजीकरण करवाना होगा।
  • इसके बाद किसान को एक रजिस्ट्रेशन कोड मिल जाएगा।
  • इस सेशन कोर्ट के माध्यम से गेहूं की खरीद की तिथि की सारी जानकारी के लिए पोर्टल के माध्यम से s.m.s. आ जाएगा।
  • अब ज्योतिषी एसएमएस के माध्यम से प्राप्त हुई हो उस तिथि पर खरीद केंद्र जाना होगा।
  • आप किसान अपना गेहूं लेकर केंद्र जाकर वहां से अपना गेहूं केंद्र में दे देगा और प्रमाण के तौर पर उसे एक रिसिप्ट मिल जाएगी।
  • इसके बाद किसान को उसके खाते में गेहूं खरीद की राशि प्राप्त हो जाएगी।

MP E Uparjan 2021-22 पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

अगर आप एमपी ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते हैं तो पहले आपको एमपी ई उपार्जन पोर्टल कीofficial website पे जाना है।

  • यदि आप कंप्यूटर से रजिस्ट्रेशन कर रहे है तो अब आपके कंप्यूटर के सामने वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जाएगा।
  • अब आपको इस होम पेज पर खरीफ उपार्जन 2021-22 किसान पंजीयन आवेदन के लिंक पे क्लिक कर देना है।

  • अब आपके कंप्यूटर के होम स्क्रीन पे नया पेज ओपन हो जाएगा।
  • आपको इस पेज पर रजिस्टर न्यू के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।

  • क्लिक करने के बाद आपके कंप्यूटर के होम स्क्रीन पर आवेदन फॉर्म ओपन हो जाएगा।
  • अब आपको एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई सभी प्रकार की जानकारियों को दर्ज करना है।
  • इसके बाद अपने सभी आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड कर देना है।
  • सभी दस्तावेजों को अपलोड करने के बाद सबमिट के बटन पे क्लिक कर दे।
  • सबमिट के बटन पे क्लिक करने के पश्चात आपका आवेदन सफल हो जाएगा।

एमपी ई उपार्जन आवेदन स्थिति ऑनलाइन कैसे जांचे

  • यहां पहले आप ई उपार्जन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाए।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने पेज ओपन होगा।
  • आपको इस वेब पेज पर खरीफ 2021-22का लिंक दिखाई देगा इस लिंक पर आपको क्लिक कर देना है।
  • क्लिक करने के पश्चात आपके कंप्यूटर की होम स्क्रीन पर नया पेज ओपन होगा।
  • अब आपको इस पेज पर फार्मर रजिस्ट्रेशन/एप्लीकेशन सर्च के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।

 

 

  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जाएगा आपको इसमें एप्लीकेशन नंबर दर्ज करना होगा।
  • दर्ज करने के बाद सर्च के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • क्लिक होने के बाद आपके कंप्यूटर में आवेदन स्थिति का विवरण ओपन हो जाएगा।

MP E Uparjan 2021 मोबाइल ऍप डाउनलोड कैसे करे ?

यदि आप अपने स्मार्टफोन से “mp e uparjan” का ऐप डाउनलोड करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको अपने मोबाइल फोन पर गूगल प्ले स्टोर ओपन करना होगा। ओपन करने के बाद आपको “mp e uparjan” सर्च करना होगा। सर्च हो जाने के बाद ‘ई – उपार्जन किसान मोबाइल एप्प’  के ऑप्शन पर क्लिक कर दें। डाउनलोड कंपलीट होने के बाद मोबाइल ऐप को इंस्टॉल कर दें। उसके बाद Register’ करें। इसके बाद, वे वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए गेहूँ को बिक्री कर सकते हैं।

पंजीयन केंद्र लॉग इन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले किसान को एमपी ई उपार्जन की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही मुख्य पृष्ठ खोल कर आ जाएगा।
  • अब मुख्य पृष्ठ पर किसान को रबी 2021-22 का विकल्प दिखाई देगा जैसे की फोटो में नीचे दिख रहा है।
  • जैसे आप पंजीयन केंद्र वाले विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने वेबसाइट का नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अब अपना जिला, ओटीपी, पासवर्ड, पंजीयन केंद्र, ऑपरेटर और कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • सभी जानकारियों को भरने के बाद लॉगिन के बटन पर क्लिक करें।
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से आप पंजीयन केंद्र लॉगइन कर पाएंगे।

किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा कैसे जोड़े

  • सबसे पहले आप ऑफिशल वेबसाइट पर जाये।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आगे कंप्यूटर के सामने होम पेज ओपन होगा।
  • आपको इस पेज पर खरीफ 2021-22 का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • इसमें आपको ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर नया पेज ओपन हो जाएगा।
  • अब आपको इस पेज पर खरीफ़ उपार्जन वर्ष 2021-22 हेतु किसान पंजीयन आवेदन का विकल्प दिखाई देगा।
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक कर देना है। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने नेक्स्ट पेज खुल जायेगा।
  • अब आपको इस पेज पर किसान पंजीयन आवेदन या खसरा जोड़ने के लिंक पर क्लिक कर देना है।

  • क्लिक करने के बाद आपके कंप्यूटर के होम स्क्रीन पर फॉर्म ओपन हो जाएगा।
  • अब इस फॉर्म में किसान भाई को कुछ जानकारियां जैसे,Mobile Number, Farmer’s Name, Composite Member ID, तथा बैंक विवरण आदि दर्ज करनी होगी।
  • सभी प्रकार की जानकारी दर्ज करने के बाद सर्च के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इस तरह किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा जुड़ जायेगा।

पावती पर्ची प्राप्त कैसे करे 

  • आप पहले ई उपार्जन की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाओ।
  • वेबसाइट पे जाने के बाद आपके सामने वेब पेज ओपन होगा।
  • आपको अब इस पेज पे खरीफ 2021-22 का ऑप्शन दिखेगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके कंप्यूटर जो होम स्क्रीन पर नेक्स्ट पेज ओपन हो जाएगा।
  • आप यहां आपको खरीफ़ उपार्जन वर्ष 2021-22 हेतु किसान पंजीयन आवेदन का लिंक दिखाई देगा।इस लिंक पे आपको क्लिक कर देना है।
  • क्लिक होने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको पावती पर्ची प्राप्त करे का लिंक दिखाई देगा। आपको इस लिंक पर क्लिक कर देना है।

  • क्लिक करने के बाद आपके कंप्यूटर पर नेक्स्ट पेज ओपन हो जाएगा।
  • अब आपको इस पेज पर फोन दिखाई देगा फॉर्म में पूछी गई सभी प्रकार की जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद सर्च के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके पेज पर आपको पावती पर्ची प्राप्त हो जाएगी आप इसे प्रिंट भी कर सकते है।

सीईओ जिला पंचायत लोगिन करने की प्रक्रिया

    • सबसे पहले किसान को एमपी ई उपार्जन की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
    • वेबसाइट पर जाते ही मुख्य पृष्ठ खोल कर आ जाएगा।
    • अब मुख्य पृष्ठ पर किसान को रबी 2021-22 का विकल्प दिखाई देगा जैसे की फोटो में नीचे दिख रहा है।
    • इसके बाद डिस्ट्रिक्ट यूजर के तहत सीईओ जिला पंचायत वाले विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब वेबसाइट का नया पेज खुलेगा जिसमें कि आपको अपना जिला चुनना होगा।
  • जिले के चुनाव के बाद आपको पासवर्ड व कैप्चा कोड भरकर लॉगइन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से सीईओ जिला पंचायत लॉगिन कर पाएंगे।

उप संचालक कृषि लॉगिन कैसे करें?

  • सबसे पहले किसान को एमपी ई उपार्जन की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही मुख्य पृष्ठ खोल कर आ जाएगा।
  • अब मुख्य पृष्ठ पर किसान को रबी 2021-22 का विकल्प दिखाई देगा जैसे की फोटो में नीचे दिख रहा है।
  • इसके बाद  उप संचालक कृषि वाले विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब चैट का नया पेज खुलेगा जिसमें जिले का चयन करना है।
  • चेंज करते ही पासवर्ड हो कैप्चा करोड़ दर्ज करने को कहा जाएगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात बुकिंग के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से उप संचालक कृषि लॉगिन कर पाएंगे।

प्रबंधक नाफेड लोगिन करने की प्रक्रिया

    • सबसे पहले किसान को एमपी ई उपार्जन की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
    • वेबसाइट पर जाते ही मुख्य पृष्ठ खोल कर आ जाएगा।
    • अब मुख्य पृष्ठ पर किसान को रबी 2021-22 का विकल्प दिखाई देगा जैसे की फोटो में नीचे दिख रहा है।
    • इसके बाद डिस्ट्रिक्ट यूजर के तहत प्रबंधक नाफेड वाले विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब वेबसाइट का नया पेज खुलेगा जिसमें कि आपको अपना जिला चुनना होगा।
  • जिले के चुनाव के बाद आपको पासवर्ड व कैप्चा कोड भरकर लॉगइन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से प्रबंधक नाफेड लॉगिन कर पाएंगे।

तहसीलदार लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले किसान को एमपी ई उपार्जन की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही मुख्य पृष्ठ खोल कर आ जाएगा।
  • अब मुख्य पृष्ठ पर किसान को रबी 2021-22 का विकल्प दिखाई देगा जैसे की फोटो में नीचे दिख रहा है।
  • इसके बाद  तहसीलदार वाले विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब वेबसाइट का नया पेज खुलेगा जिसमें कि आपको अपना जिला व तहसील चुनना होगा।
  • जिले के चुनाव के बाद आपको पासवर्ड व कैप्चा कोड भरकर लॉगइन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से तहसीलदार लॉगिन कर पाएंगे।

डीआईओ लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले किसान को एमपी ई उपार्जन की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही मुख्य पृष्ठ खोल कर आ जाएगा।
  • अब मुख्य पृष्ठ पर किसान को रबी 2021-22 का विकल्प दिखाई देगा जैसे की फोटो में नीचे दिख रहा है।
  • इसके बाद  डीआईओ वाले विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब वेबसाइट का नया पेज खुल कर आएगा।
  • यहां अपने जिले का चुनाव करें
  • जिले के चयन के पश्चात पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करें
  • अब लॉगिन के बटन पर आपको क्लिक करना है।
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से डी आई ओ लॉगिन कर पाएंगे।

एमपी ई-उपार्जन के लिए हेल्पलाइन नंबर

यदि आपको ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन करने में कोई परेशानी हो रही है तथा आप किसी तरह की सहायता प्राप्त करना चाहते है तो आप सहायता के लिए किसान हेल्पलाइन नंबर 181 पर संपर्क कर सकते है।

महत्वपूर्ण लिंक

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *