हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया, पंजीकरण स्टेटस

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना का पंजीकरण स्टेटस | Haryana Bhavantar Bharpai Yojana In Hindi  | भावांतर भरपाई योजना के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | Bhavantar Bharpai Yojana Apply

हरियाणा सरकार ने किसानों के लिए अनेक योजना निकाली हैं, इनमे इस योजना Haryana Bhavantar Bharpai Yojana 2023 है। किसान इसके माध्यम से फसलों को होने वाले नुक्सान से बच सकता है। हरियाणा सरकार ने इ खरीद पोर्टल में पंजीकृत किसानो को इस योजना का लाभ दिया है। BBY ई-पोर्टल के माध्यम से पंजीकृत किसानों को इसका लाभ मिल पायेगा। इसके बाद भावांतर योजना में किसान अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। इस लेख में आप भावांतर भरपाई योजना से जुड़ी सभी जानकारी जैसे की योजना कब शुरू हुई, भावांतर योजना पोर्टल क्या है, योजना के पत्र पंजीकृत किसान, पंजीयन लिस्ट, भुगतान कब होगा, पंजीयन की आखिरी तारीख आदि प्राप्त कर पाएंगे।

Haryana Bhavantar Bharpai Yojana 2023

हरियाणा राज्य सरकार द्वारा किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए कई सारी योजनाओं की शुरुआत की है। ताकि प्रदेश के किसान भाइयों को लाभ प्रदान किया जा सके। अभी हाल ही में हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा “हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2023”को प्रदेश में शुरू किया है। इस योजना के तहत जो किसान सब्जियों की फसल करते थे और वह मंडियों में अपनी फसलों को बेचा करते थे। और सब्जियों का अच्छा दाम ना मिलने के कारण उन्हें नुकसान झेलना पड़ता था। इस नुकसान की भरपाई के लिए प्रदेश सरकार ने योजना की शुरुआत की है।

भावांतर भरपाई योजना क्या है

जैसा कि हमने आपको ऊपर लेख में बताया कि यह Bhavantar Bharpai Yojana 2023 राज्य के किसानों के लिए शुरू की गई है। योजना के माध्यम से जो किसान अपनी फसलो को मंडियों में कम दामों पर बेज देते हैं, और उन्हें मंडियों पर सब्जिया और फलो पर उचित दाम नहीं मिल पाता ऐसे किसानों को भावांतर भरपाई योजना के तहत मुआवजा या फिर भरपाई के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान कराई जाती है जिससे किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। और उन्हें फल सब्जियां की खेती करने में और फसलों को बेचने में किसी भी प्रकार का नुकसान ना झेलना पड़े इसलिए सरकार ने यह योजना शुरू की है।

Highlights of Haryana Bhavantar Bharpai Yojana

लेख हरियाणा भावांतर भरपाई योजना
 शुरू की गई मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा
 उद्देश्य फसलों की उचित कीमत प्रदान करना
 लाभार्थी राज्य के किसान
 कब शुरू हुई (शुभारंभ) 2018
 आवेदन कैसे करें ऑनलाइन
 ऑफिसियल वेबसाइट यहाँ क्लिक करें

मेरी फसल मेरा ब्यौरा

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना का उद्देश्य

राज्य सरकार का Bhavantar Bharpai Yojana को शुरू करने का उद्देश्य यह है कि जो किसान अपनी फसलों को नजदीकी मंडियों में जाकर बेज देते थे। और उन्हें उचित मूल्य ना मिलने के कारण कटाई का सामना करना पड़ता था ऐसी स्थिति में राज्य सरकार ने उन सब किसान की फसलो का उचित मूल्य दिलाने के लिए धनराशि प्रदान कराएगी ताकि किसान भाइयों को अपनी फसलों पर अच्छा पैसा मिल सके। और किसान भाई खेती कार्य से जुड़े रहे। हरियाणा राज्य के जिन किसानों ने फल सब्जियां आदि पर नुकसान उठाया है,और अब वह राज्य सरकार द्वारा मुआवजा प्राप्त करना चाहते हैं, तो उन्हें  हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2023 की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा। आपके आवेदन करने के बाद आपको भरपाई की राशि प्रदान की जाएगी।

भावांतर भरपाई योजना पंजीकरण समय की अवधि

इस योजना के तहत राज्य के जो भी किसान भाई ऑनलाइन पंजीकरण करना चाहते हैं, हमने नीचे लेख में आपको आरंभ तिथि, आखिरी तारीख की लिस्ट दी हुयी है।

क्रमांक फसल का नाम पंजीकरण अवधि सत्यापन अवधि सत्यापन इत्यादि के विरुद्ध अपील अवधि बिक्री अवधि
आरंभ तिथि समापन तिथि तक तक दौरान
1. आलू 15 सितंबर 31 अक्तूबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 1 दिसम्बर -31 मार्च
2. प्याज 15 दिसम्बर 15 फरवरी 15 मार्च 25 मार्च 1 अप्रैल – 31 मई
3. टमाटर 15 दिसम्बर 15 फरवरी 15 मार्च 25 मार्च 1 अप्रैल-15 जून
4. फूलगोभी 15 सितंबर 31 अक्तूबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 1 दिसम्बर-31 मार्च
5. किन्नू 1 सितंबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 31 दिसम्बर 1 दिसम्बर – 28 फरवरी
6. गाजर 1 अक्तूबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 31 दिसम्बर 1 दिसम्बर -28 फरवरी
7. मटर 1 अक्तूबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 31 दिसम्बर 1 दिसम्बर – 28 फरवरी

 Haryana Bhavantar Bharpai Yojana के तहत की गयी फसलों की सूची

फसल का नाम समर्थन मूल्य रुपये प्रति क्विंटल में) अनुसूचित उत्पादन (क्विंटल / एकड़)
आलू 500 120
प्याज 600 100
टमाटर 500 140
फूलगोभी 600 100
किन्नू 1100 104
गाजर 700 100
मटर 1100 50

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना के लाभ

राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई योजना का लाभ केवल हरियाणा राज्य के किसानों को प्रदान किया जाएगा।

  • प्रदेश में जिन किसान भाइयों ने अपनी फसल को इस वर्ष कम दामों पर मंडियों में बेचा था। और उन्हें सही कीमत ना मिलने पर नुकसान उठाना पड़ा था। ऐसे किसानों को राज्य सरकार की तरफ से मुआवजा के रूप में धन राशि प्रदान की जाएगी।
  •  भावांतर भरपाई योजना 2023 के तहत मुआवजा राशि प्राप्त करने के लिए किसान भाइयों को ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार भरपाई की राशि सीधे किसानों के बैंक खाते में ट्रांसफर करती है। राशि प्राप्त करने के लिए किसानों के पास बैंक अकाउंट होना चाहिए।
  • Haryana Bhavantar Bharpai Yojana में सरकार ने करीब 10 प्रकार की फसलों को शामिल किया है। जिनके नाम कुछ इस प्रकार से
  • टमाटर, आलू, प्याज, फूलगोभी, किन्नू, गाजर, मटर, अमरूद, शिमला मिर्च, बैंगन आदि।
  • इस योजना के अंतर्गत, उत्पादक को प्रोत्साहन राशि प्राप्त करने के लिए अपने उत्पाद को बेचने पर “जे” फॉर्म प्राप्त करना होगा।

भावांतर भरपाई योजना में पंजीकरण हेतु गाइडलाइन

  • योजना के अंतर्गत लाभ लेने के लिए बीज बुआई के दरमियान एक्सपोजर (बीबीवाई) ई-पोर्टल के माध्यम से मार्केटिंग बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर आपको रजिस्ट्रेशन करना आवश्यक है।
  • यदि किसान प्रमाणित क्षेत्र से संतुष्ट नहीं है तो वह अपील दायर कर सकते हैं।
  • योजना के अंतर्गत सभी निर्माताओं का नि: शुल्क रजिस्ट्रेशन किया जायेगा।
  • पंजीकरण केवल तय किये गए समय में ही किया जायेगा।
  • Bhavantar Bharpai Yojana के तहत पंजीकरण करने के लिए आप ई सेवा केंद्र / ई-दिशा केंद्र / विपणन बोर्ड / बागवानी विभाग / कृषि विभाग और इंटरनेट कियोस्क का प्रयोग कर सकते हैं।

भावांतर भरपाई योजना 2023 की पात्रता

  • इस योजना के लिए केवल हरियाणा राज्य के ही किसान पात्र माना जाऐंगे।
  • आवेदक के पास कृषि योग्य भूमि उपलब्ध होनी चाहिए।
  • आवेदक हरियाणा का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • योजना के तहत आवेदन केवल वही किसान करेंगे जो कि अपने खेतों में फल सब्जियां आदि का कार्य करते हैं।

भावांतर योजना की मुख्य विशेषताएं

  • इस स्कीम के माध्यम से सरकार ने छोटे किसानों को सब्जी काश्तकारों के कारन होने वाले जोखिम मुक्त करना है।
  • नीचे दी गई चार फसलों पर सरकार ने रुपए 48000/ – से रुपए 56000/ – की दर से प्रति एकड़ आमदनी को सुनिश्चित किया है।
  • अभी फिलहाल इसके तहत चार सब्जियों (टमाटर, प्याज, आलू एवं फूलगोभी) का विभाग ने संरक्षित मूल्य निर्धारित किया है।
  • यदि किसान मण्डी में सब्जी बेचता है और उसे इसके काम दाम मिलते हैं तो इस इस्तिथि में उन्हें वेबसाईट (www.hsamb.gov.in) पर BBY ई-पोर्टल के माध्यम से जो भी पंजीकृत किसान हैं उन्हें संरक्षित मूल्य तक भाव के अंतर जो भी होगा सरकार प्रदान करेगी।
  • इस योजना से मिलने वाला फायदा सभी भूमि मालिक, पट्टेदार या किराये पर काश्तकार लेने के पात्र।

Bhavantar Bharpai Yojana के आवश्यक दस्तावेज

यदि आप योजना के तहत आवेदन करके लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपके पास नीचे दिए गए सभी प्रकार के आवश्यक दस्तावेजों का होना बहुत ही जरूरी है।

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • फसलों का विवरण
  • बीज वाली फसल का वर्णन
  • बैंक पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट फोटो
  • वोटर आईडी कार्ड
  • निवास का प्रूफ

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

प्रदेश के जो भी किसान भाई योजना के तहत लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, उन्हें पहले योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना होगा, कैसे ऑनलाइन अप्लाई करना है उसकी जानकारी आपको नीचे लेख में दी हुई है।

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की Official Website पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज ओपन होगा। जैसे आपको नीचे चित्र में दिया हुआ है।

  • इसके बाद आपको इस होम पेज पर किसान पंजीकरण करे का एक विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • जैसे ही आप दिए गए विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुल कर आ जाएगा।
  • जैसे नीचे चित्र में दिया हुआ है।

  • इसके बाद आपको इस वेब पेज पर रजिस्ट्रेशन फॉरमैट खुलकर आएगा जिसमें आपको कुछ पूछी गई जानकारियां जैसे, किसान का स्थान , किसान का विवरण , भूमि का विवरण ,बैंक का विवरण आदि को दर्ज कर देना है।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में सभी प्रकार की जानकारी दर्ज करने के बाद आपको SAVE के बटन पर जाकर क्लिक कर देना है।
  • जैसे ही आप के लिए करेंगे आपसे कुछ आवश्यक दस्तावेज मांगे जाएंगे आपको अपने सभी आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड कर देना है। अपलोड हो जाने के बाद आपको Submit Button पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार से आप योजना के तहत पंजीकरण कर सकते हैं और आप का पंजीकरण सफल हो जाएगा।

ई-खरीद किसान पंजीकरण

पंजीकृत किसानो का विवरण कैसे चेक करें

  • यहां आप पहले योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाये।
  • ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके कंप्यूटर स्क्रीन होम पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको नीचे किसानो का विवरण का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आ जाएगा।

  • इसके बाद आपको इस नए पेज पर विवरण का एक फॉर्म दिखाई देगा आपको फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारियों को दर्ज कर देना है।
  • यदि आपने सभी प्रकार की जानकारियां दर्ज कर ली है तो आप अब नीचे लेफ्ट साइड में ग्रीन बटन जिस पर Go लिखा है उस पर क्लिक करना होगा।
  • Go के बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर किसान का विवरण की सूची आ जाएगी।
  • इस प्रकार से आप कृषक का भावांतर योजना की पंजीयन लिस्ट आराम से देख सकते हैं।

Toll free helpline Number

यदि आपको योजना से जुडी अन्य कोई जानकारी या पंजीकरण प्रक्रिया के बारे में कोई जानकारी चाहिए तो आप हेल्प ले सकते है। इसके के लिए आपको पहले टोल-फ्री नंबर 18001802060 पर कॉल करनी होगी। या आप hsamb@hry.nic.in ई-मेल लिखकर भी समस्या का हल प् सकते है।

Tags related to this article
Categories related to this article
Featured

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top